पंज प्यारे अथवा पाँच प्यारे (पंजाबी: ਪੰਜ ਪਿਆਰੇ, Pañj Pi'... - dofaq.co
झील

पंज प्यारे अथवा पाँच प्यारे (पंजाबी: ਪੰਜ ਪਿਆਰੇ, Pañj Pi'...

wikipedia - 27 Jan 2021
पंज प्यारे अथवा पाँच प्यारे (पंजाबी: ਪੰਜ ਪਿਆਰੇ, Pañj Pi'ārē, शाब्दिक अर्थ पाँच प्यारे लोग), सिख गुरु गुरु गोबिन्द सिंह द्वारा १३ अप्रैल १६९९ को आनन्दपुर साहिब के ऐतिहासिक दीवान में पाँच लोगों भाई साहिब सिंह, भाई धरम सिंह, भाई हिम्मत सिंह, भाई मोहकम सिंह और भाई दया सिंह को दिया गया नाम है। उन्होंने ख़ालसा पंथ की स्थापना की।

What's New