ज़कात (अरबी: زكاة‎ zakāt, "पाक या शुद्धी करने वाला", और ... - dofaq.co
ज़कात

ज़कात (अरबी: زكاة‎ zakāt, "पाक या शुद्धी करने वाला", और ...

wikipedia - 14 Dec 2020
ज़कात (अरबी: زكاة‎ zakāt, "पाक या शुद्धी करने वाला", और ज़कात अल-माल زكاة ألمال, "सम्पत्ती पर ज़कात ",[1] या "ज़काह"[2]) इस्लाम में एक प्रकार का "दान देना" है, जिसको धार्मिक रूप से ज़रूरी और कर के रूप में देखा और माना जाता है। [3][4] कुरआन में सलात (नमाज़) के बाद ज़कात ही का मक़ाम है. [5] शरीयत में ज़कात उस माल को कहते हैं जिसे इंसान अल्लाह के दिए हुए माल में से उसके हकदारों के लिए निकालता है।

What's New